Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

31 जुल॰ 2022

महज 80 फीसदी शिक्षकों ने अब तक चार से पांच ही आकस्मिक अवकाश लिये

आकस्मिक अवकाश समेत दूसरी छुट्टियां पोर्टल पर कम दर्ज करने वाले परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों की जांच होगी। स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आंनद ने बीएसए समेत मातहत अधिकारियों को निर्देश जारी किये हैं कि टीम बनाकर स्कूलों का निरीक्षण कर शिक्षकों की छुट्टियों पर नजर रखें। अनुपस्थित मिलने वाले शिक्षकों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करें। लखनऊ के 80 फीसदी शिक्षकों ने साल में मिलने वाली 14 आकस्मिक अवकाश (सीएल)में से चार या पांच छुट्टी ही अभी तक ली हैं। जबकि इस साल के सात महीने बीते गए हैं। सीएल समेत दूसरी छुट्टियां पोर्टल पर कम दर्ज हैं।

मानव संपदा पोर्टल पर शिक्षकों की कम दर्ज छुट्टियां देखकर अंदेशा होने पर बेसिक शिक्षा विभाग ने संज्ञान लिया है। अधिकारियों को संदेह है कि शिक्षक ऑन लाइन अवकाश न लेकर ऐसे ही गायब हो रहे हैं। जिसके चलते महानिदेश ने जिम्मेदारों से शिक्षकों पर विशेष निगरानी के निर्देश जारी किए गए हैं। बीएसए अरुण कुमार बताते हैं कि अवकाश लेने वाले शिक्षकों को सुबह आठ बजे से पहले पोर्टल पर दर्ज करने का अनिवार्य है। इस तय समय के बाद अवकाश मान्य नहीं होगा। स्कूल वार निरीक्षण कर शिक्षकों पर नजर रखी जा रही है। गायब मिलने पर शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close