प्राथमिक शिक्षक भर्ती न आने की वजह से प्रयागराज में छात्रों ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी का किया घेराव - Get Primary ka Master Latest news by Updatemarts.com, Primary Ka Master news, Basic Shiksha News,

प्राथमिक शिक्षक भर्ती न आने की वजह से प्रयागराज में छात्रों ने परीक्षा नियामक प्राधिकारी का किया घेराव

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश के छात्र प्राथमिक शिक्षक भर्ती की मांग लगातार कर रहे हैं। छात्र सरकार से शिक्षक भर्ती का विज्ञापन जारी करने की मांग कर रहे हैं। राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया था कि प्राथमिक शिक्षकों के 51 हज़ार से अधिक पद रिक्त हैं और जल्द ही भर्ती दी जाएगी एवं शिक्षा मित्रों को एक और मौका दिया जाएगा। सरकार विज्ञापन जारी नहीं करना चाहती, इसलिए छात्रों के द्वारा लगातार आंदोलन किया जा रहा है।

बेसिक शिक्षा विभाग में पिछले 5 वर्षों से कोई नई भर्ती नहीं हुई है। जो 68500 और 69000 शिक्षकों की भर्ती हुई है, वह सुप्रीम कोर्ट से शिक्षामित्रों के समायोजन रद्द होने की वजह से हुई है। आरटीआई से प्राप्त डाटा के अनुसार, प्राथमिक विद्यालयों में अब भी डेढ़ लाख से ज्यादा पद खाली हैं। अब प्रदेश के अंदर लगभग 25 लाख प्रशिक्षु डीएलएड, बीटीसी, शिक्षामित्र, बीएड बेरोज़गार है, जिन्हें प्रशिक्षण पूर्ण होते हुए भी रोज़गार की तलाश है। युवा बेरोजगार मंच के संस्थापक राकेश पाण्डेय उर्फ बंटी पाण्डेय ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द 97 हजार पदों पर भर्ती का विज्ञापन जारी करे, नहीं तो प्रदेश के लगभग 10 लाख से ज्यादा प्रशिक्षु सड़क पर उतरने के लिए मजबूर होंगे। अगर सरकार हमारी मांग पूरी नहीं करती है तो बहुत बड़े स्तर पर आंदोलन होगा।
इसलिए सरकार जल्द से जल्द 97 हजार पदों पर विज्ञापन जारी करे, वरना इसका असर सड़कों पर दिखाई देगा। सरकार को छात्रों के मुद्दे को संज्ञान में लेकर जल्द से जल्द विज्ञापन जारी करे। आज परीक्षा नियामक प्राधिकारी एलनगंज धरने में राकेश पाण्डेय,विनय श्रीवास्तव, अभिषेक तिवारी, नीरज यादव,अर्पित मिश्रा, अंकित पटेल,विकास सिंह राजपूत, रामानुज दुबे, अश्विनी सिंह ऋषभ आदि के साथ हज़ारों की संख्या में लोग उपस्थित थे।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close