Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

1 अग॰ 2022

लेखपाल भर्ती परीक्षा में साल्वर गैंग सरगना समेत तीन गिरफ्तार, पेपर लीक की अफवाह STF ने की खारिज

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से आयोजित राजस्व लेखपाल भर्ती की लिखित परीक्षा में रविवार को स्पेशल टास्क फोर्स ने तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। सोरांव में गैस गोदाम के पास से नकल कराने वाले गिरोह के सरगना विजयकांत पटेल और उसके सहयोगियों दिनेश कुमार यादव और सोनू कुमार को गिरफ्तार किया गया। वे तीनों ब्रेजा कार में जा रहे थे तभी एसटीएफ टीम ने रोका और पकड़ लिया। अभियुक्तों के कब्जे से इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस समेत अन्य उपकरण बरामद हुए। इनमें विजय कुमार प्रयागराज में बहरिया के अतनपुर गांव का रहने वाला है जबकि दिनेश कुमार राजेपुर गांव तथा सोनू कुमार सराय अजीज गांव निवासी हैं। एसटीएफ ने पेपर लीक होने की अफवाह को भी खारिज किया है।

नकल माफिया केएल पटेल के साथ करता रहा है काम

विजयकांत ने एसटीएफ को बताया कि कासगंज जनपद से पालीटेक्निक करने के बाद नकल माफिया डा. केएल पटेल के मुबारकपुर स्थित आइटीआइ कालेज में बतौर अध्यापक तीन साल तक काम करता रहा। उसी दौरान वह केएल पटेल के साथ मिलकर तमाम भर्ती परीक्षाओं में अभ्यर्थियों से पैसे लेकर अलग-अलग तरीकों से नकल कराने, साल्वर बैठाकर परीक्षा पास कराने तथा पेपर आऊट कराने में लिप्त हो गया था। उसने केएल पटेल के साथ फर्जी एडमिट कार्ड, आधार कार्ड बनाना भी सीख लिया था। बाद में वह 2016 से 2019 तक सोरांव के विवेकानंद आइटीआइ कालेज में पढ़ाने लगा और साथ ही अभ्यर्थियों से पैसे लेकर परीक्षा पास कराने का काम भी करता रहा। इस काम में बहरिया के अतनपुर का संदीप पटेल भी उसका सहयोगी रहा जो अभी फरार है।

2019 में नौकरी छोड़कर विजयकांत पूरी तरह से नौकरी दिलाने और परीक्षा पास कराने के अपराध में जुट गया था। गिरफ्तार अभियुक्तों से डीएम और एसएसपी ने भी पूछताछ की।

ये हुआ गिरफ्तार अभियुक्तों से बरामद

एक ब्रेजा कार, 15 ब्लूटूथ ईयर बड, छह सिमकार्ड, छह ईयर बड सेल, नौ ब्लूटूथ डिवाइस कार्ड, 10 मोबाइल, एक पैनकार्ड, एक डीएल और कुछ पैसे।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close