Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

21 नव॰ 2022

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री के आवास का हुआ घेराव और प्रदर्शन, जानिए क्यों?

अलीगढ़ में बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री के आवास का हुआ घेराव और प्रदर्शन, जानिए क्यों?

शिक्षा मंत्रीजी, क्यों हमें सता रहे हो, बार-बार हमसे क्यों चक्कर लगवा रहे हो। यह गीत रविवार को प्रदेश के शिक्षामंत्री स्वतंत्र प्रभार संदीप सिंह के घर के सामने गूंज रहे थे। शिक्षक भर्ती के परिणाम संशोशित करने और विभिन्न मांगों के लिए भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों ने उनके घर के सामने धरना लगाया।

अलीगढ़ : वर्ष 2008 में हुई 68, 500 सहायक शिक्षकों की भर्ती में ओबीसी, दिव्यांग, भूतपूर्व सैनिक और स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों के आश्रितों को उर्त्तीण अंकों में पांच फीसदी छूट देने की मांग को लेकर सैकड़ों अभ्यार्थियों ने रविवार को बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह के मैरिस रोड स्थित आवास पर प्रदर्शन किया। करीब चार घंटे तक अभ्यर्थी राज्यमंत्री के आवास के बाहर डटे रहे।

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को डॉ. भीमराव आंबेडकर पार्क भेजना चाहा लेकिन अभ्यर्थियों ने मैरिस रोड और चौराहे पर जाम लगा दिया, जिससे आवागमन ठप हो गया। अभ्यार्थियों और पुलिस के बीच नोकझोंक भी हुई। पुलिस ने मुश्किल से जाम खुलवाया। इसके बाद आंबेडकर पार्क में दोपहर दो से रात आठ बजे तक धरना जारी रहा। राज्यमंत्री की ओर से 24 नवंबर को लखनऊ में मुलाकात करने के आश्वासन के बाद धरना खत्म हुआ।

रविवार को सुबह 9 बजे बीटीसी प्रशिक्षु शिक्षक संघ के बैनर तले अभ्यर्थियों ने बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह का आवास घेर लिया। ये धरना प्रदर्शन दोपहर एक बजे तक जारी रहा। मैरिस रोड पर जाम लगने से आवागमन प्रभावित हो गया। इससे पुलिस कर्मियों के हाथपांव फूल गए। पुलिस ने उन्हें जबरन उन्हें डॉ. भीमराव आंबेडकर पार्क भेजना चाहा था।
इसके बाद अभ्यार्थियों ने वहीं पर प्रदर्शन किया। डॉ.भीमराव आंबेडकर पार्क पहुंचे अभ्यार्थियों ने दोपहर दो बजे से रात 8:30 बजे तक धरना दिया। अभ्यर्थी भूपेंद्र चौधरी ने बताया कि मंत्री के आश्वासन के बाद धरना खत्म कर दिया है। उन्होंने 24 नवंबर को सुबह 11 बजे लखनऊ में भेंट करने का समय दिया है। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि 68,500 सहायक शिक्षक भर्ती 2018 में पिछड़ा वर्ग दिव्यांग, भूतपूर्व सैनिक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आदि के अभ्यर्थियों को आरक्षित वर्ग नहीं माना गया था।

उनको पांच फीसदी छूट से वंचित कर दिया गया था, जिस पर राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग नई दिल्ली व राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग लखनऊ, विधान परिषद की सामाजिक न्याय व सद्भावना समिति ने आदेश पारित किया कि शिक्षक भर्ती में आरक्षित वर्ग के पिछड़ा वर्ग दिव्यांग, भूतपूर्व सैनिक व स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के आश्रित को उत्तीर्ण अंक में 5 फीसदी की छूट दी जाए, लेकिन चार वर्षों में इस संबंध में कुछ नहीं हो सका।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि जल्द से जल्द नियुक्ति की जाए। धरने में शिववीर सिंह लहरा उन्नाव, भूपेंद्र चौधरी, महाराज सिंह अलीगढ़, ललिता चौधरी मथुरा, रूमा यादव सम्भल, राहुल आजमगढ़, बिजेंद्र लोधी बुलंदशहर, नसीम बरेली सहित करीब 300 अभ्यर्थी शामिल रहे।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close