Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं मध्य फरवरी से कराने की तैयारी

लखनऊ : सीबीएसई की 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी होने के बाद यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाओं को लेकर तैयारियां तेज हो गई हैं। माध्यमिक शिक्षा विभाग मध्य फरवरी से परीक्षाएं कराने की तैयारी कर रहा है। वहीं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी परीक्षाएं समय से कराने के निर्देश दिए हैं, जिससे कि अप्रैल में नए शैक्षिक सत्र की शुरुआत हो सके।


बोर्ड के अधिकारियों के अनुसार चालू सत्र की शुरुआत में घोषित शैक्षिक कैलेंडर में मार्च में परीक्षाएं कराना प्रस्तावित है, लेकिन बीते दिनों शासन स्तर पर हुई बैठक में मध्य फरवरी यानी 15 या 16 तारीख तक परीक्षाएं शुरू कराने का प्रस्ताव आया था। इसमें कहा गया है कि कार्यक्रम इस तरह तय किया जाए कि परीक्षाओं का समापन होली यानी 8 मार्च तक हो जाए। इससे पहले प्रयोगात्मक परीक्षाएं 15 जनवरी तक शुरू कराने का प्रस्ताव है। ये परीक्षाएं दो चरणों में 15 फरवरी तक करा ली जाएंगी।

महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद का कहना है कि बोर्ड परीक्षा कार्यक्रम के बारे उच्च स्तर से निर्णय हो रहा है। वहाँ से कार्यक्रम तय होने के बाद कोई घोषणा होगी।

होली से पहले परीक्षा संपन्न कराने पर जोर

31,16,485 छात्र पंजीकृत हैं हाईस्कूल में

27, 50, 913 छात्र परीक्षा देंगे इंटर की

58 लाख से अधिक परीक्षार्थी

यूपी बोर्ड परीक्षा में पिछले साल के मुकाबले इस बार यानी वर्ष 2023 में परीक्षार्थियों की संख्या बढ़ी है। परीक्षा के लिए 58 लाख 67 हजार 398 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं।

पिछले वर्ष 2022 में कुल पंजीकृत परीक्षार्थियों की संख्या 51 लाख 92 हजार 616 थी।

परिणाम अप्रैल में

बोर्ड इसकी तैयारी में भी है कि परीक्षाओं के बाद मूल्यांकन कार्य समय से करा लिए जाएं ताकि नया शैक्षिक सत्र बहुत प्रभावित न हो। हालांकि परिणाम घोषणा अप्रैल में होने की संभावना है। परीक्षाओं को समय से कराने के लिए जिलेवार केंद्र निर्धारण की प्रक्रिया भी जल्द पूरी करने के निर्देश दिए गए हैं।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close