Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

यूपी शीतलहर में कांपा ठंड से अभी राहत नहीं

नए साल के पहले दिन प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में तापमान लुढ़कने से लोग दिन भर सर्दी से ठिठुरते रहे। अगले चार-पांच दिन प्रदेश में ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं।

पश्चिमी विक्षोभ के साथ हल्की हवा और नमी के चलते अब घने कोहरे के साथ शीतलहर का प्रकोप बढ़ेगा। पारे में गिरावट के साथ ठिठुरन भरी ठंड दिन में भी धूप नहीं निकलने देगी। पश्चिमी यूपी में शीतलहर का प्रकोप गहरा सकता है। सुबह व रात में कहीं बहुत घना और कहीं घना कोहरा रहेगा। इस कोहरे की वजह से दृश्यता (विजिबिलिटी) काफी कम रहेगी।

बीते 24 घंटों के दौरान यानि रविवार को प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में पूरे दिन धूप नहीं निकली। लखनऊ और आसपास भी मौसम का यही हाल रहा। बरेली, मुरादाबाद, झांसी व कानपुर में दिन का तापमान सामान्य से कम रहा। शनिवार की रात झांसी व मथुरा में पारा सामान्य से दो डिग्री कम दर्ज हुआ। पहाड़ों पर बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों में पिछले तीन दिनों से था। रविवार को बर्फीली हवा मैदानी इलाके में प्रवेश कर गई। इसका असर यह रहा कि सुबह से कड़ाके की ठंड शुरू हुई तो पूरे दिन इसका असर दिखा। दोपहर डेढ़ बजे के करीब आसमान में कुछ देर के लिए सूरज के दर्शन हुए, लेकिन फिर बादल छा गए। दिन और रात के तापमान में भी अंतर कम हुआ।

रविवार को हमीरपुर में दिन का तापमान सामान्य से सात डिग्री कम यानि 13.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। हरदोई में भी दिन का तापमान सामान्य से सात डिग्री कम यानि 16.6 डिग्री सेल्सियस रहा। शाहजहांपुर में सामान्य से पांच डिग्री कम यानि 15 डिग्री सेल्सियस दिन का तापमान रहा। लखनऊ में यह सामान्य तीन डिग्री कम यानि 18 डिग्री सेल्सियस रहा। शनिवार की रात झांसी में पारा 5.6 डिग्री सेल्सियस पर रहा, यह सामान्य से दो डिग्री कम रहा। मथुरा-वृंदावन में भी शनिवार रात का तापमान सामान्य से दो डिग्री कम यानि 5.5 डिग्री सेल्सियस रहा.

सप्ताह भर घने कोहरे की चपेट में रहेगा उत्तर भारत

नई दिल्ली। न्ाए साल की शुरुआत के साथ उत्तर पश्चिम भारत के बड़े हिस्से में शीत लहर की स्थिति लौट आई है। मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों में उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में घने कोहरे का अनुमान जताया है।

मौसम कार्यालय ने कहा कि उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश और पश्चिमी मध्य प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में अगले दो दिनों में ठंड बढ़ने का अनुमान है। धीमी हवाओं और सिंधु-गंगा के मैदानी इलाकों में सतह के पास भारी नमी के कारण वर्ष के इस समय कोहरा छाया रहना सामान्य बात है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में हिमालय से आने वाली उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण अगले दो दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम और आसपास के मध्य भारत में न्यूनतम तापमान में दो-चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट आने की संभावना है। मौसम कार्यालय ने जनवरी और मार्च के बीच उत्तर-पश्चिम भारत में लंबी अवधि के औसत की सामान्य बारिश से 86 कम बारिश का अनुमान लगाया है।

कश्मीर में बर्फबारी से ठिठुरा उत्तर भारत

श्रीनगर। कश्मीर में नववर्ष का आगाज कड़ाके की ठंड के साथ हुआ। गुलमर्ग तथा पहलगाम में बीती रात मौसम की अब तक की सबसे ठंडी रात रही। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close