रसोईघर में पढ़ते हैं परिषदीय विद्यालय के बच्चे - Get Primary ka Master Latest news by Updatemarts.com, Primary Ka Master news, Basic Shiksha News,

रसोईघर में पढ़ते हैं परिषदीय विद्यालय के बच्चे

बदायूं। बुनियादी स्तर से शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए प्रदेश सरकार परिषदीय विद्यालयों को कॉन्वेंट स्कूलों की तर्ज पर संचालित करना चाहती है। हालात इससे उलट हैं। भवन जर्जर होने के कारण एक दशक में शहर के 16 विद्यालयों को बंद कर दिया गया। छह भवनों में 14 विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं। प्राथमिक विद्यालय फरशोरी टोला के बच्चों की कक्षाएं कन्या उच्च प्राथमिक विद्यालय के रसोई घर में चल रही हैं।
शहर में ज्यादातर परिषदीय स्कूल किराए के भवनों में चल रहे थे। मरम्मत के अभाव में यह जर्जर होते चले गए। जिन भवनों के गिरने की नौबत आई, वहां स्कूल का संचालन बंद कर दिया गया। इस तरह से 39 में से 30 स्कूल भवन कम हो गए। उन विद्यालयों के छात्र-छात्राओं को पास के विद्यालयों में शिफ्ट किया जा रहा है। इसका नतीजा यह है कि जो कक्षाएं अलग-अलग कक्षों में चलती थीं, वे अब एक ही कक्ष में चल रही हैं।


सबसे ज्यादा खराब स्थिति शहर के उच्च प्राथमिक और कन्या स्कूल की है। इस स्कूल के परिसर में पांच विद्यालय संचालित है। इन पांचों विद्यालयों को सभी कक्षाएं संचालित करने के लिए एक-एक कक्ष दिया गया है। लिहाजा एक ही कक्ष में सभी कक्षाओं के छात्र-छात्राओं को बैठा कर पढ़ाया जा रहा है। इससे उनकी पढ़ाई प्रभावित हो रही है।
प्राथमिक विद्यालय फरशोरी टोला में कक्षा दो से पांच तक में 89 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं। कक्षा दो में 17, तीन में 29, चार में 22 और पांच में 21 छात्र-छात्राएं हैं। इन सभी को कन्या उच्च प्राथमिक विद्यालय के रसोई घर में बैठाकर पढ़ाया जा रहा है। इंचार्ज प्रधानाध्यापक सुबूही तबस्सुम ने बताया कि हमें कक्षाएं संचालित करने के लिए जो कक्ष दिया गया है, उसमें कन्या उच्च प्राथमिक विद्यालय का रसोईघर था। वहां काफी गंदगी थी। उसे साफ कराया, तब जाकर वहां पढ़ाई शुरू हो सकी। कक्षा एक में प्रवेश अभी चल रहे हैं।

कबूलपुरा का स्कूल स्टोर रूम में चल रहा
प्राथमिक विद्यालय कबूलपुरा नंबर दो कन्या उच्च प्राथमिक विद्यालय के स्टोर रूम में चल रहा है। प्रधानाध्यापक बुशरा कौसर ने बताया कि स्टोर रूम की सफाई कराई। बिजली की फिटिंग कराई। पंखे लगवाए तब जाकर यहां बच्चों को बैठाने लायक स्थिति बन सकी है। उन्होंने बताया कि उनके यहां कक्षा एक में अभी प्रवेश चल रहे हैं।कक्षा दो में 21, तीन में 14, चार में 16 और पांच में 18 छात्र-छात्राएं पंजीकृत है। सभी स्टोररूम में बैठकर पढ़ते हैं।

primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close