12460 की ओपेन काउंसिलिंग को लेकर हंगामा, बीएसए को घेरा - Get Primary ka Master Latest news by Updatemarts.com, Primary Ka Master news, Basic Shiksha News,

12460 की ओपेन काउंसिलिंग को लेकर हंगामा, बीएसए को घेरा

गोंडा। जिले के बीएसए दफ्तर में शनिवार को ओपेन काउंसिलिंग को लेकर हंगामा शुरू हो गया। इससे पहले अभ्यर्थियों ने मूल आवेदकों को मौका देने के बाद बाकी पदों पर काउंसिलिंग कराने के लिए बीएसए को ज्ञापन सौंपा। लेकिन कुछ देर बाद अभ्यर्थियों ने बीएसए कार्यालय परिसर गेट पर नारेबाजी शुरू कर दी। बीएसए प्रेमचंद यादव से नोकझोंक भी हो गई।


अभ्यर्थियों ने बताया कि मूल आवेदक होने के बावजूद उनके साथ दोहरा मापदंड अपनाया जा रहा है। ऐसे में बीएसए कार्यालय से लेकर कलेक्ट्रेट तक चक्कर काटने पर मजबूर हैं। दोपहर तक बीएसए कार्यालय पर धरना देने के बाद देरशाम अभ्यर्थी कलेक्ट्रेट पहुंच गए। इस दौरान अधिकारियों ने उन्हें
नियमानुसार कार्रवाई का भरोसा दिया है। पूजा मौर्य, शिवशंकर, कमल सिंह, सौरभ सिंह और मोनिका समेत अन्य अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि काउंसिलिंग से पहले कोई स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी नहीं किए गए हैं। मूल आवेदकों के साथ मनमानी की जा रही है। सभी को काउंसिलिंग में शामिल कर उन्हें बाहर किया जा रहा है। जिले की वरीयता क्रम में उनका स्थान होने के बावजूद मेरिट लिस्ट से बाहर हो रहे हैं। आरोप लगाया कि अन्य जनपदों में ऐसा नहीं किया गया। जिले के मूल आवेदकों को मौका दिया जाना चाहिए, लेकिन गोंडा में अनियमितता की जा रही है। उनकी बात नहीं सुनी जा रही है।




इससे आक्रोशित होकर दो सौ से अधिक अभ्यर्थियों ने बीएसए कार्यालय गेट पर हंगामा शुरू कर दिया। साथ ही मनमानी के खिलाफ नारेबाजी की है।


इस बीच बंद बीएसए दफ्तर परिसर में दाखिल हो गए। जहां बीएसए व अभ्यर्थियों के बीच नोंकझोंक हो गई। बीएसए ने किसी तरह अभ्यर्थियों के बातचीत कर मामला शांत कराया। अभ्यर्थी परिसर में देरशाम तक लिस्ट के इंतजार में डटे रहे।


1375 ने कराई काउंसिलिंग


रिक्त पदों के सापेक्ष 1375 अभ्यर्थियों ने काउंसिलिंग कराई है। शनिवार को प्रपत्रों की जांच की गई। इसके लिए अलग-अलग काउंटर बनाए गए थे। बीएसए प्रेमचंद यादव मौके पर डटे रहे। अलग-अलग काउंटर पर प्रपत्रों की जांच की गई। अधिकारियों ने दावा किया कि जल्द ही सत्यापन के बाद सूची अपलोड की जाएगी। वहीं, बीएसए कार्यालय के कर्मचारियों की सक्रियता से किसी तरह अभ्यर्थियों को समझा बुझाकर शांत कराया गया। एहतियातन मौके पर पुलिस को सूचना भी देना मुनासिब नहीं समझा। अभ्यर्थियों ने बताया कि पूरी तरह बीएसए कार्यालय के आसपास रहने पर ही मजबूर रहे हैं।


नहीं हुई कोई गड़बड़ी


6 परिषद के आदेशों पर काउंसिलिंग कराई गई। इसके आधार पर प्रपत्रों की जांच की जा रही है। अभ्यर्थियों से मिले ज्ञापन को परिषद भेज दिया गया। कोई गड़बड़ी नहीं की गई है। अभ्यर्थियों को समझा-बुझाकर शांत कराया है।


- प्रेमचंद यादव, बीएसए

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close