कार्यों में लापरवाही पर 34 प्रधानाध्यापकों का वेतन रोका - Get Primary ka Master Latest news by Updatemarts.com, Primary Ka Master news, Basic Shiksha News,

कार्यों में लापरवाही पर 34 प्रधानाध्यापकों का वेतन रोका

गोंडा। बभनजोत के प्राथमिक विद्यालय गौरा चौकी और बेलसर के पूरेअर्जुन समेत 34 विद्यालयों के बच्चों का चार महीने बाद भी ब्यौरा ऑनलाइन नहीं किया गया है।

बीएसए स्तर से अगले आदेश तक परिषदीय विद्यालयों के इंचार्जों का वेतन रोक दिया गया। माना जा रहा है कि जल्द ही कार्रवाई हो सकती है।


जिला समन्वयक जगदीश शरण गुप्ता ने बताया कि विद्यालय में समुचित पठन-पाठन के साथ ही पात्रों को योजनाओं का लाभ देने के लिए स्कूल, टीचर और स्टूडेंट प्रोफाइल ऑनलाइन किया जा रहा है।
फिर भी गौराचौकी, पूरेअर्जुन, बीरमापुर, दरियापुर और गुलरिहा समेत 34 विद्यालयों के जिम्मेदार प्रधानाध्यापकों ने छात्रों से संबंधित ब्यौरा अपलोड नहीं किया। इसे लेकर कई बार नोटिस व चेतावनी दी जा चुकी है। पर प्रधानाध्यापक लापरवाही से बाज नहीं आ रहे हैं।

सभी प्रोफाइल अपलोड करने के लिए 31 अक्टूबर 2023 की तिथि निर्धारित की गई थी। इसके बाद से लगातार संपर्क कर ब्यौरा ऑनलाइन करने के लिए अनुरोध किया गया।

बावजूद इसके विद्यालय के जिम्मेदारों की ओर से शासकीय कार्यों में रुचि नहीं ली जा रही है। सोमवार को बीएसए स्तर से सभी 34 प्रधानाध्यापकों का वेतन रोका गया।

बीएसए प्रेमचंद ने बताया कि शासन की प्राथमिकता वाले कार्यों में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। टीचर, स्कूल और स्टूडेंट प्रोफाइनल देने में लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

तकनीकी कारणों से नहीं हो सका अपलोड

जिला समन्वयक जगदीश शरण गुप्ता ने बताया कि सभी प्रधानाध्यापकों को यू-ट्यूब लाइव सेशन के माध्यम से तीनों प्रोफाइल अपलोड करने के लिए विस्तृत प्रशिक्षण दिया जा चुका है। वहीं ब्लॉकवार, विद्यालयवार प्रगति व्हाट्सएप के माध्यम से दी जा रही है। प्राथमिक विद्यालय पूरेअर्जुन प्रधानाध्यापक उमेश कुमार सिंह का कहना है कि यू-डायस पोर्टल पर सभी ब्यौरा अपलोड कर दिया गया। तकनीकी कारणों से तय समय में ब्यौरा अपलोड नहीं हो पाया। इसे जल्द पूरा किया जा रहा है।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close