बोर्ड एग्जाम में छात्राओं के कक्ष में शिक्षिकाओं की ड्यूटी अनिवार्य - Get Primary ka Master Latest news by Updatemarts.com, Primary Ka Master news, Basic Shiksha News,

बोर्ड एग्जाम में छात्राओं के कक्ष में शिक्षिकाओं की ड्यूटी अनिवार्य

बस्ती। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा 22 फरवरी से शुरू हो रही है। जिन शिक्षकों के खिलाफ बोर्ड में कोई मामला है या डिबार किया गया है उनकी ड्यूटी कक्ष निरीक्षक के रूप में नहीं लगेगी। छात्राओं के कक्ष में महिला शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जाएगी।

माध्यमिक शिक्षा परिषद ने निर्देश दिए हैं कि परीक्षा केंद्रों पर उन विद्यालयों के शिक्षकों को तैनात न किया जाए जिन विद्यालयों के विद्यार्थी उस केंद्र पर परीक्षा दे रहे हों। जिला विद्यालय निरीक्षक जगदीश शुक्ला ने बताया कि ड्यूटी से गैरहाजिर शिक्षकों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। परीक्षा केंद्र पर तैनात सभी कक्ष निरीक्षक केंद्र व्यवस्थापक के अधीन रहकर कार्य करेंगे।

जिले में यूपी बोर्ड के 401 विद्यालय हैं। इस बार बोर्ड परीक्षा के लिए 78 हजार 206 छात्र-छात्राओं ने पंजीकरण कराया है। इनमेंं हाईस्कूल के 42 हजार 306 और इंटरमीडिएट के 36 हजार 274 छात्र-छात्राएं शामिल हैं। परीक्षा के लिए 122 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा में जिन शिक्षकों के खिलाफ बोर्ड में कोई भी मामला विचाराधीन है या फिर बोर्ड की ओर से शिक्षक को डिबार किए गए हैं, उनकी डयूटी कक्ष निरीक्षक के रूप में इस बार नहीं लगेगी।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close