Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

12 अप्रैल 2022

इस बार स्कूल चलो अभियान में आसान नहीं होगा खानापूर्ति करना

 मऊ। जिले में चल रहे स्कूल चलो अभियान में शिक्षकों तथा अधिकारियों के लिए खानापूर्ति करना आसान नहीं होगा। अभियान पर जिलास्तरीय अधिकारी ऑनलाइन नजर रखेंगे। स्कूलों में होने वाले कार्यक्रमों की फोटो, वीडियो को व्हाट्सएप ग्रुप, पोर्टल पर अपलोड करना होगा। जिले में 1208 परिषदीय विद्यालयों में 1.59 लाख बच्चे अध्ययनरत हैं। नए शिक्षा सत्र की शुरुआत हो चुकी है। प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में शत-प्रतिशत नामांकन तय करने के लिए जिले में स्कूल चलो अभियान की शुरुआत कर दी गई है। 




जिसमें चरणबद्ध तरीके से विद्यालयों में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिसमें शिक्षकों के साथ ही खंड शिक्षा अधिकारी की भी मौजूदगी रहेगी। वह बच्चों को स्कूल आने के लिए प्रेरित करेंगे। गांव-गांव भ्रमण कर अभिभावकों से मिलेंगे। 30 अप्रैल तक डोर-टू-डोर अभियान चलेगा। आमतौर पर स्कूल चलो अभियान के नाम पर जिले में सिर्फ खानापूर्ति होती थी। कागज पर ही अभियान के कोरम पूरे कर लिए जाते थे। मगर इस बार विभाग ने इस पर गंभीरता दिखाई है। स्कूल चलो अभियान पर ऑनलाइन नजर रखी जाएगी। बीएसए डॉ. संतोष कुमार सिंह ने बताया कि स्कूल चलो अभियान में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अभियान को सफल बनाने के लिए मानीटरिंग की जा रही है। खंड शिक्षा अधिकारियों को दिशा निर्देश जारी कर दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,