Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

8 नव॰ 2022

Video Call पर कपड़े उतारती महिला! फिर शिक्षक को किया ब्लैकमेल, स्कैम का नया तरीका सेक्सटॉर्शन

सामान्य फोन्स कॉल्स पर हम बहुत बार स्पैम कॉल्स को इग्नोर कर देते हैं. मगर वॉट्सऐप पर आई कॉल शायद ही कोई मिस करता होगा. क्या हो आप किसी वॉट्सऐप कॉल को बहुत जरूरी समझकर उठाते हैं और आपके साथ स्कैम हो जाए. स्कैम भी ऐसा जिसकी शायद आपने कल्पना भी ना की हो.

पिछले कुछ दिनों में सेक्सटॉर्शन के कई मामले सामने आए हैं. दरअसल, इस स्कैम में कुछ ही सेकेंड्स में ऐसा कुछ होता है कि यूजर के होश उड़ जाएं. मसलन यूजर्स को एक वीडियो कॉल आती है और फिर स्कैम की पूरी कहानी शुरू हो जाती है.

ये सिर्फ एक कहानी नहीं बल्कि हकीकत है

एक परिषदीय शिक्षक ने हमसे अपनी कहानी साझा करते हुए बताया कि वो शाम को अपने घर पर रात लगभग 10 बजे विस्तर पर सोने जा रहे थे . इस बीच उन्हें वॉट्सऐप पर एक वीडियो कॉल आती है. शुरुआत में उन्होंने उस कॉल को रिसीव नहीं किया, लेकिन दो से तीन बार लगातार फोन आने पर उन्हें ये कॉल जरूरी लगी.

जैसे ही उन्होंने वॉट्सऐप वीडियो कॉल रिसीव की, तो इस वीडियो कॉल में , जिसमें दूसरे तरफ एक जवान खूबसूरत युवती थी. महिला कॉल शुरू होते ही अपने एक एक करके कपड़े उतारने शुरू कर दिए. शिक्षक ने जब तक कॉल को डिस्कनेक्ट किया, स्कैमर्स का काम हो चुका था.

अगले ही पल एक दूसरे नंबर से यूजर को कॉल आती है और स्कैमर उससे पैसे की डिमांड करता है. पैसे देने के बाद भी ब्लैकमेलिंग का ये सिलसिला खत्म नहीं होता है. स्कैमर्स वीडियो कॉल पर यूजर की फुटेज का इस्तेमाल करके ऐसा वीडियो बना लेते हैं कि जैसे इस पूरी घटना में पीड़ित शख्स शामिल रहा हो. इस तरह के स्कैम को सेक्सटॉर्शन कहा गया है.

शिक्षक ने अपना नाम व पता शेयर करने से हमसे मना किया है इसलिए उनका एड्रेस आपसे साझा नहीं किया जा रहा हैं.

पुलिस के पास जाने से बचते हैं लोग

ऐसे मामलों में बहुत कम लोग पुलिस के पास जाते हैं. ज्यादातर लोगों को लगता है कि ये उनकी लगती है तो वे पैसे देकर किसी भी तरह से इस मुसीबत से निकलना चाहते हैं. वहीं बहुत से लोग नंबर ब्लॉक कर देते हैं. तो कुछ अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स तक को डिलीट कर देते हैं.

कैसे बच सकते हैं आप?

अब सवाल है कि आप इस तरह के मामले से कैसे बच सकते हैं. पुलिस की मानें तो स्कैमर्स बहुत स्मार्ट तरीके से लोगों को अपने जाल में फंसाते हैं और ऐसे मामलों में उन्हें ट्रैक कर पाना मुश्किल होता है.

स्कैमर्स एक स्टेट में रहते हुए दूसरे राज्य के लोगों को टार्गेट करते हैं. जैसे वे उत्तर भारत में रहते हुए दक्षिण भारत के किसी यूजर को टार्गेट करेंगे. ऐसे में उन्हें ट्रैक कर पाना मुश्किल होता है. कॉलिंग के वे अलग-अलग नंबर्स का इस्तेमाल करते हैं.

फिर इनसे बचने का रास्त क्या है?

इस तरह की कॉल्स से आप नहीं बच सकते हैं, लेकिन ऐसे मुसीबत में पड़ने से जरूर बच सकते हैं. इसके लिए आपको सिर्फ सावधानी रखनी होगी. किसी भी अननोन नंबर से आने वाली वीडियो कॉल को रिसीव ना करें. अगर जरूरी लगे तो नंबर पर ऑडियो कॉल करके चेक कर लें कि कॉल करने वाले शख्स का मकसद क्या है. इस तरह से आप खुद को मुसीबत से बचा सकते हैं.

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close