Breaking

Primary Ka Master | Education News | Employment News latter

Blog Search

91 स्कूलों में कुर्सी मेज के लिए 2.64 करोड़ रुपये खर्च होंगे

बहराइच, अब कांवेंट की तर्ज पर बेसिक स्कूलों में भी आकर्षक व रंग-बिरंगे डेस्क व बेंच पर बैठकर बच्चे पढ़ाई करेंगे। स्कूलों में फर्नीचर खरीद के लिए सरकार ने खजाना खोला है। पहले चरण में 91 विद्यालयों में फर्नीचर की खरीद की जाएगी। इस पर 2.64 करोड़ का बजट शासन ने अवमुक्त किया है। खरीद की औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं। जल्द ही नामित संस्था की ओर से फर्नीचर उपलब्ध कराए जाएंगे।


प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़े होने

के साथ ही बहराइच आठ आकांक्षात्मक जिले में शामिल है। नीति आयोग का शिक्षा की बेहतरी पर फोकस है। कायाकल्प योजना के तहत बदहाल बेसिक स्कूलों को संवारा गया है। कक्ष से लेकर शौचालय व पेयजल की बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हुई हैं। अंग्रेजी माध्यम से बच्चों को शिक्षा मुहैय्या कराने की ओर तेजी से कदम बढ़ाए जा रहे हैं, लेकिन कांवेंट की तर्ज पर इंफ्रास्ट्रक्चर का अभाव बेसिक स्कूलों के बच्चों के शिक्षण में बाधक बना हुआ है। कई स्कूलों में अभी भी बच्चे फर्श पर बैठकर पढ़ाई करते हैं। खासकर कक्षा छह से आठ तक के बच्चों को लिखने में दिक्कतें होती हैं। अब यह समस्या भी दूर होने जा रही है। पहले चरण में फर्नीचर विहीन 91 जूनियर विद्यालयों में बेंच व डेस्क की खरीद के लिए शासन की ओर से न केवल प्रस्ताव पर मंजूरी दी गई बल्कि 2.64 करोड़ का बजट भी अवमुक्त कर दिया गया है। बीएसए ने भी जैम पोर्टल के माध्यम से फर्नीचर खरीद की औपचारिकताएं भी पूरी कर दी हैं। जल्द ही बच्चे फर्श से बेंच पर बैठकर पढ़ाई करते दिखेंगे.

एक सीट बैठेंगे तीन छात्र 14 हजार को सहूलियत

बहराइच। बेसिक विभाग के जिला समन्वयक आरके सिंह ने बताया कि एक बेंच पर तीन विद्यार्थी बैठ सकेंगे। बच्चों के बैग व बोतल रखने तक की सुविधा होगी। 91 विद्यालयों में डेस्क और बेंच पहुंचने पर लगभग 14 हजार बच्चों को बैठकर पढ़ाई करने में सहूलियत मिलेंगी।

मजबूत व कई रंग के लगे होंगे सरमाइका

बहराइच। वर्ष 2018 में भी बेसिक स्कूलों में फर्नीचरों की खरीद की गई थी, लेकिन इस बार आपूर्ति होने वाले डेस्क व बेंच की डिजाइन ही नहीं होंगे बल्कि कई रंगों की सनमाइका से सुसज्जित रहेंगे। यहां तक की उम्र व कक्षवार बच्चों के हिसाब से डेस्क व बेंच की साइज होगी, ताकि बच्चों को पढ़ने व लिखने में कोई दिक्कत न हो।

GS जिले के 91 स्कूलों के लिए 2.64 करोड़ से डेस्क व बेंच खरीदे जाएंगे। आकर्षक फर्नीचर मुहैय्या कराया जाएगा। खरीद की औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं। एआर तिवारी, बीएसए, बहराइच

इस पर रहेगी नजर

■ बच्चों के लिए आकर्षक और बाल मैत्रिक रहेगी
■ डेस्क व बेंच बच्चों की उम्र व • कक्षा के आधार पर होगी

बच्चों के स्कूल बैग, कॉपी-किताब व पानी की बोतल भी रखेंगे

आयु व कक्षा के अनुसार डेस्क- बेंच के बीच रहेगा स्पेस

■ डेस्क के ऊपरी व बेंच के बैक हिस्से में पांच डिग्री का रहेगा स्लोप

गुणवत्ता खराब तो लगेगी संस्था पर पेनाल्टी

बहराइच जिला समन्वयक ने बताया कि मॉडल एग्रीमेंट में प्रविधान है कि फर्नीचर की आपूर्ति में विलंब करने व गुणवत्ता खराब होने पर आपूर्तिकर्ता पर साप्ताहिक पेनाल्टी लगाई जा सकेगी।

Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,

close